Petrol Price! लोकसभा चुनाव से पहले, सरकार को पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कमी करने की सोच है। इसका कारण अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल कीमतें कम हो रही हैं। सूत्रों के अनुसार, पेट्रोल-डीजल की कीमतों में ₹4 से ₹10 तक की कटौती हो सकती है। ऐसे में सामान्य लोगों को काफी आराम मिल सकता है।
पेट्रोल और डीजल कीमतों में कमी की तैयारी
सामान्य लोगों को पेट्रोल और डीजल की महंगी कीमतों से जल्दी ही राहत मिल सकती है। लोकसभा चुनाव से पहले, पेट्रोल और डीजल के रेट्स में कमी हो सकती है। यह इसलिए है क्योंकि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें भी कम हो गई हैं। इससे तेल विपणन कंपनियां इस बोझ को उठाने में सक्षम होंगी। सूत्रों के अनुसार, पेट्रोल और डीजल की कीमतों में ₹4 से ₹10 प्रति लीटर तक की कटौती हो सकती है। सरकार पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में कटौती पर भी विचार कर रही है, ताकि पूरा बोझ सार्वजनिक क्षेत्र कंपनियों पर न आए। सूत्रों के अनुसार, कटौती पर अंतिम निर्णय प्रधानमंत्री के स्तर पर होगा।
पिछले वर्ष हुआ था कमी
पिछले वर्ष, आखिरी बार मई में पेट्रोल और डीजल कीमतें कम हुई थीं जब वित्त मंत्रालय ने पेट्रोल पर प्रति लीटर ₹8 और डीजल पर ₹6 की कटौती की थी। वैश्विक बाजार में भी कच्चे तेल की कीमतें घट रही हैं। शुक्रवार को अंतरराष्ट्रीय बाजार में ब्रेंट क्रूड का मूल्य $77 प्रति बैरल के आसपास था।
शेयरों में गिरावट
यह पिछले महीनों के 85 से 90 डॉलर की रेंज से कम है, जिससे इंधन की कीमतों में कटौती करना आसान हो गया है। इस समय, पेट्रोल और डीजल की कीमतों में संभावित कटौती की खबरों के बीच, शुक्रवार को इंडियन ऑयल, भारत पेट्रोलियम, और हिंदुस्तान पेट्रोलियम के शेयर 4% तक टूट गए।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *