New Delhi: विराट कोहली, भारतीय क्रिकेट के पौरहाउस के धरोहर, New Year पर एक और शानदार प्रदर्शन की ओर बढ़ रहे हैं। साउथ अफ्रीका के खिलाफ शुरू होने वाले टेस्ट सीरीज के दौरान, कोहली ने खुद को एक बार फिर से नई ऊचाइयों तक पहुंचाने का दृढ इरादा किया है। इस समय, उन्हें दो विशेष उपलब्धियां हासिल करने का मौका है, जो क्रिकेट के इतिहास में एक नया रिकॉर्ड बना सकता है।

Virat Kohali

26 दिसंबर को शुरू होने वाले मुकाबले से पहले, टीम इंडिया की आँखें फिर से उनके पौरहाउस के दिग्गज, विराट कोहली पर हैं, जो हाल ही में लंदन से लौटे हैं। पारिवारिक आपातकालीन स्थितियों के बावजूद, उनकी यात्रा योजनाबद्ध हो रही है, और वह अब आगामी टेस्ट में पुनः नेतृत्व करने के लिए तैयार हैं। अगर कोहली पहले टेस्ट में शतक बनाते हैं, तो वह अपने नाम को क्रिकेट इतिहास में एक ओर रिकॉर्ड कर सकते हैं।
पहली उपलब्धि की दिशा में, उन्हें टेस्ट क्रिकेट में विदेशी भूमि पर सर्वाधिक शतक बनाने का मौका है, जिसमें ऑस्ट्रेलियाई स्टीव स्मिथ को पीछे छोड़ने की कगार पर हैं। स्मिथ के पास 16 शतकों के साथ रिकॉर्ड है, जबकि कोहली 15 शतकों के साथ दूसरे नंबर पर हैं। एक शतक कोहली को टॉप स्थान पर पहुंचा देगा, और स्मिथ को इस प्रतिष्ठित रिकॉर्ड से हटा देगा।
दूसरी उपलब्धि की दिशा में, कोहली एक कैलेंडर वर्ष में सबसे अधिक बार 2000 से अधिक अंतरराष्ट्रीय रन बनाने के कुमार संगकारा के रिकॉर्ड को तोड़ने की चुनौती स्वीकार कर रहे हैं। संगकारा के नाम छह ऐसे उदाहरणों का रिकॉर्ड है, और छह बार यह उपलब्धि हासिल करने वाले संगकारा से कोहली मौजूदा वर्ष में 2000 रन तक पहुंचने से महज 66 रन दूर हैं। एक शतक या पहले टेस्ट में 66 रन की आवश्यकता है, जो एक ऐतिहासिक क्षण को बना सकता है, जिससे कोहली एक कैलेंडर वर्ष में 2000 रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज बन सकते हैं।
कोहली के प्रदर्शन को लेकर प्रत्याशा स्पष्ट है, क्योंकि क्रिकेट फैंस उत्सुकता से उनके संभावित कारनामों का इंतजार कर रहे हैं जो साल के अंत में टेस्ट क्रिकेट रिकॉर्ड को फिर से परिभाषित कर सकते हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *