New Delhi: सरकार ने एक नई दिल्ली में पीपीएफ स्कीम के तहत एक निवेश को गारंटीड रूप से 40.50 लाख रुपये तक पहुंचाने का ऐलान किया है, और इसके लिए निवेशकों को केवल एक निवेश करना होगा। इस स्कीम का उद्दीपन करने के लिए हम इसे पूरी तरह से जानेंगे, इसके लाभों को समझेंगे, और यह कैसे एक सुरक्षित और लाभकारी निवेश का साधन हो सकता है।

PPF स्कीम एक लॉन्ग टर्म निवेश स्कीम है जो निवेशकों को बिना किसी जोखिम के स्मॉल सेविंग का विकल्प प्रदान करती है। इसका मुख्य उद्देश्य लोगों को एक दीर्घकालिक दृष्टि से बचत और निवेश के लिए प्रेरित करना है। इस स्कीम में निवेश करने से न केवल निवेशकों को सुरक्षा मिलती है, बल्कि उन्हें गारंटीड रिटर्न भी मिलता है, जो इसे एक अत्यंत आकर्षक विकल्प बनाता है।

बैंक स्कीम से है बेहतर

इस स्कीम का एक अच्छा गुण है कि यह बैंक एफडी की तुलना में बेहतर रिटर्न प्रदान करती है, जो निवेशकों के लिए एक और साबित होता है कि इसमें निवेश करना उनके लिए वाणिज्यिक दृष्टि से भी सही है।

पीपीएफ स्कीम में निवेश करने के लिए व्यक्ति को बालिग होना आवश्यक है, और इसमें निवेश की अवधि को 15 साल तक बढ़ाया जा सकता है। खाता पोस्ट ऑफिस या किसी भी बैंक में खोला जा सकता है और इसमें नियमित या मासिक जमा की जा सकती है, जो निवेशकों को उनकी आर्थिक आवश्यकताओं के अनुसार लाभ पहुंचाता है।

इतना मिलता है ब्याज

इस स्कीम में ब्याज की दर 7.1 फीसदी है, जिससे निवेशकों को सालाना एक स्थिर और निश्चित रिटर्न मिलता है। यह ब्याज एफडी और पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट की तुलना में बेहतर है, और इससे निवेशकों को एक अच्छा लाभ प्राप्त होता है।

पीपीएफ स्कीम में निवेश के लिए न्यूनतम राशि 500 रुपये है, और इसे निवेशकों को नियमित रूप से जमा करनी होती है। यदि किसी फाइनेंशियल ईयर में 500 रुपये नहीं जमा किए जाते हैं तो खाता बंद हो सकता है, लेकिन निवेशकों को मिनिमम सब्सक्रिप्शन और डिफॉल्ट ईयर की फीस के माध्यम से अपना खाता बंद करने से बचा जा सकता है।

पीपीएफ स्कीम में निवेश करने से निवेशकों को टैक्स बेनिफिट भी प्राप्त होता है। यह स्कीम टैक्स फ्री है, और इससे निवेशकों को उनकी कमाई से होने वाले टैक्स को बचाने का अच्छा उपाय प्रदान करती है। इससे निवेशकों को सालाना 1.5 लाख रुपये तक की अर्जित इनकम से टैक्स मुक्ति मिलती है, जो इसे वित्तीय दृष्टि से भी अत्यंत लाभकारी बनाता है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *