Superhit scheme of State Bank of India: शेयर बाजार में निवेश करने का जोखिम लेने के बजाय, बहुत से लोग सुरक्षित और नियमित आय की विकल्पों की तलाश में हैं। इसी में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया का फिक्स्ड डिपॉजिट स्कीम एक बड़ा महत्व रखता है। इस स्कीम का एक खास फायदा यह है कि यह विभिन्न मेच्यूरिटी वाली स्कीमों पर नियमित ग्राहकों को ज्यादा से ज्यादा लाभ प्रदान करता है, विशेष रूप से वरिष्ठ नागरिकों को।

गैस उपभोक्ताओं को लगा बड़ा झटका, इन लोगों को नहीं मिलेगा मुफ्त सिलेंडर का लाभ, जानें पूरी डिटेल एसबीआई के ग्राहकों को 7 दिन से लेकर 10 साल की अवधि तक फिक्स्ड डिपॉजिट पर ब्याज प्राप्त होता है। इसके अलावा, विभिन्न मेच्यूरिटी पर एसबीआई ग्राहकों को 3% से 6.5% तक और वरिष्ठ नागरिकों को 3.5% से 7.5% तक वार्षिक ब्याज मिलता है।

PM Kisan: 11 करोड़ किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी! 16वीं किस्त पर आया बड़ा अपडेट स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की स्कीम में 10 लाख रुपये के जमा पर 20 लाख तक की राशि बन सकती है। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया फिक्स्ड डिपॉजिट कैलकुलेटर के अनुसार, निवेशकों को 6.5% वार्षिक ब्याज दर पर मेच्यूरिटी पर कुल 19,55,558 रुपये मिलेंगे। इसमें ब्याज के साथ ही 9,55,558 रुपये की फिक्स्ड डिपॉजिट आय होगी।

दूसरी ओर, वरिष्ठ नागरिकों को 10 साल की मेच्यूरिटी वाली स्कीम में 10 लाख रुपये की एकमुश्त जमा करनी होगी। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया फिक्स्ड डिपॉजिट कैलकुलेटर के अनुसार, वरिष्ठ नागरिकों को 7.5% ब्याज दर पर मेच्यूरिटी पर कुल 21,02,349 रुपये मिलेंगे। इसमें ब्याज के साथ ही 11,02,349 रुपये की फिक्स्ड डिपॉजिट आय होगी।

यह भी पढ़े- 7वें वेतन आयोग: केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनरों के लिए बंपर खुशखबरी, डीए में 4% बढ़ोतरी, बेसिक सैलरी में रिकॉर्डतोड़ इजाफा

यह भी पढ़े- 100 रूपये के इस 786 सीरियल नंबर वाले नोट की बिक्री से कैसे बनें लखपति?

यह भी पढ़े-घर में पड़े पुराने सिक्के बेचकर बनें लखपति, जानें कैसे

यह भी पढ़े-LIC सरल पेंशन योजना: एकमुश्त प्रीमियम पर जिंदगी भर पेंशन का इंतजाम

यह भी पढ़े-राशन कार्ड धारकों के लिए खुशखबरी! अब गेहूं, चावल के साथ फ्री में और मिलेगा इतने किलो मोटा अन्न

Jio के शानदार डेटा प्लान, 100 रुपये से भी कम कीमत में मिलेगा 6GB तक डेटा स्टेट बैंक ऑफ इंडिया फिक्स्ड डिपॉजिट से बड़ी कमाई होगी। बैंक के फिक्स्ड डिपॉजिट में ब्याज कमाई टैक्स के अधीन होती है। इसके तहत, फिक्स्ड डिपॉजिट पर आपकी कमाई पर टैक्स लगता है। आयकर नियमों के अनुसार, फिक्स्ड डिपॉजिट स्कीम पर कटौती की जाती है। अर्थात, फिक्स्ड डिपॉजिट के मेच्यूर होने पर आपकी कमाई को टैक्स के तहत देना होगा।

आईटी नियमों के अनुसार, छूट प्राप्त करने के लिए निवेशक फॉर्म 15G और 15H जमा कर सकते हैं। अन्य तरफ, ग्राहक 5 साल के आय बचाव फिक्स्ड डिपॉजिट पर सेक्शन 80C के तहत 1.5 लाख रुपये का टैक्स बचाव कर सकते हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *