New Delhi: रेल यात्रियों के लिए एक नई बड़ी खुशखबरी है, क्योंकि भारतीय रेलवे लाने वाला है एक सुपर ऐप जिससे काम करना आसान हो जाएगा और जिसमें कई खास सुविधाएं होंगी। इस सुपर ऐप का निर्माण रेल मंत्रालय का इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी सिस्टम CRIS कर रहा है और इसके लिए कुल 90 करोड़ रुपये का खर्च हो रहा है।

विभिन्न सुविधाएं एक ही ऐप में:

इस सुपर ऐप के माध्यम से रेलवे रिजर्वेशन और भारतीय रेल से जुड़ी सभी सेवाएं एक स्थान पर उपलब्ध होंगी। इसमें टिकट बुकिंग और ट्रेन ट्रैकिंग के साथ-साथ अन्य सेवाएं भी शामिल होंगी जो इसे अन्य ऐप्स से अलग बनाएंगी। एक सरकारी अधिकारी ने इसे डाउनलोड्स की कमी के साथ-साथ यूजर्स के एक्सपीरियंस को बेहतर बनाने की उम्मीद जताई है।

खर्च का आंकलन:

इस सुपर ऐप की खोज और उसके तीन सालों तक का चलाने का खर्च कुल 90 करोड़ रुपये है। इसमें रेल मदद, यूटीएस, नेशनल ट्रेन इन्क्वायरी सिस्टम, PortRead, Satark, TMS-Nirikshan, IRCTC Rail Connect, IRCTC eCatering Food on Track और IRCTC Air जैसी सेवाएं शामिल हो सकती हैं। यह अन्य सभी रेलवे ऐप्स को इसमें शामिल करने के एक प्रयास का हिस्सा है।

टिकटिंग के लिए एक ही ऐप

इस एकमात्र ऐप में रेलवे रिजर्वेशन और भारतीय रेल से जुड़े सभी आवश्यकताओं को पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है। यहाँ तक कि इसमें अन्य प्राइवेट एप्लीकेशनों को भी इसका हिस्सा बनाया जा सकता है, जो IRCTC के माध्यम से टिकट बुकिंग सेवा प्रदान करते हैं। IRCTC Rail Connect आप्स में से सबसे लोकप्रिय है और इसमें 10 करोड़ से ज्यादा डाउनलोड्स हुए हैं।
आने वाले समय में रेलवे सुपर ऐप से यात्रा के लिए नए और सुधारित सेवाएं उपलब्ध होने की उम्मीद है, जिससे यात्रा का अनुभव और भी आसान और सुरक्षित होगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *