New Delhi: यूपी के बीएसएनएल उपभोक्ताओं के लिए एक बड़ी खुशखबरी है, क्योंकि फरवरी महीने से ही बीएसएनएल शुरू कर रहा है 4जी स्पीड की सेवाएं। इसके लिए, 4जी के 800 बीटीएस सिग्नल टावर्स को यूपी ईस्ट सर्किल को दिए गए हैं, जिनकी सप्लाई 10 दिनों में शुरू हो जाएगी।

बीएसएनएल का उपयोगकर्ता बेहतर सेवाएं प्राप्त करेंगे:

बीएसएनएल के मुख्य प्रबंधक, राजेश कुमार सोनी ने बताया कि यूपी ईस्ट सर्किल में 6000 टावरों पर काम जारी है, जिससे उपभोक्ताओं को बेहतर सेवाएं मिलेंगी। इसमें लखनऊ समेत अन्य जिलों में तेजी से विस्तार हुआ है, और बहुतेजीवन सेवाएं लाभान्वित हो रही हैं। इसके अलावा, 50 और सर्विस सेंटर्स शुरू किए जा रहे हैं ताकि उपभोक्ता सेवाएं बेहतर हों। यूपी ईस्ट सर्किल में बीएसएनएल के 20 लाख उपभोक्ता हैं, जिनमें से 40 हजार पोस्टपेड सिमकार्ड का इस्तेमाल हो रहा है।

नए टावरों के माध्यम से गांवों में सुधार:

बीएसएनएल ने चुने गए 100 गांवों में 4जी सिग्नल कवरेज को बढ़ावा देने के लिए 600 नए टावरों की स्थापना की है। साथ ही, लखनऊ सहित अन्य जिलों में विकसित हो रहे नए क्षेत्रों में 500 नए बीटीएस टावरों की निर्माण हो रही है। इस से दूरदराज क्षेत्रों में भी शीघ्र इंटरनेट कनेक्टिविटी मिलेगी, जिससे ग्रामीण इलाकों में भी तकनीकी विकास होगा।

लंबे समय से रिचार्ज नहीं किए गए नम्बरों के लिए आकर्षक प्लान:

बीएसएनएल के 30 लाख नम्बर हैं जो लंबे समय से रिचार्ज नहीं किए गए हैं और इसलिए उनके लिए आकर्षक प्लान्स लाए जा रहे हैं। हाल ही में एक 450 रुपये का प्लान लॉन्च किया गया था जिसमें एक साल की वैधता थी, और इसे 50 हजार लोगों ने अपनाया। इस योजना की सफलता के बाद, अब एक और समर्थन योजना लॉन्च की जा रही है जिसमें दोबारा ऐसा ही प्लान होगा, ताकि इन 30 लाख नम्बरों को भी अच्छी सेवाएं मिलें।

हाईस्पीड इंटरनेट का विस्तार:

यूपी के 35 हजार गांवों में हाईस्पीड इंटरनेट के लिए ऑप्टिकल फाइबर लाइनें बिछाई जा रही हैं, जिससे सभी गांवों में तेज इंटरनेट कनेक्टिविटी होगी। साथ ही, सभी लैंडलाइन नम्बरों को बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के फाइबर लाइन से जोड़ने का कार्य चल रहा है, जिससे इन नम्बरों को भी बेहतर सेवाएं मिलेंगी। वर्तमान में, 46 हजार लैंडलाइन नम्बर कार्य कर रहे हैं, और इस प्रक्रिया से बहुतेजीवन सेवाएं सुनिश्चित की जा रही हैं।

अयोध्या में सुधार और नए आवर:

अयोध्या में श्रीराम मन्दिर के प्राण प्रतिष्ठा को ध्यान में रखते हुए, नए बीटीएस टावरों की स्थापना की जा रही है। इनमें महर्षि वाल्मीकि एयरपोर्ट, श्रीराम मन्दिर के पास, और टेंट सिटी में तीन नए मोबाइल टावर्स शामिल हैं। साथ ही, अयोध्या के अन्य क्षेत्रों में जहां सिग्नल कमजोर हैं, वहां 8 नए टावर लगाए जा रहे हैं, जिससे शहर में भी बेहतर सेवाएं मिलेंगी।
यूपी में बीएसएनएल के उपभोक्ताओं के लिए इस नए अपग्रेड से सार्वजनिक क्षेत्र में तकनीकी विकास की ओर एक और कदम बढ़ा है। यह सुनिश्चित करेगा कि ग्रामीण और दूरदराज क्षेत्रों में भी उच्च गति और उच्च दक्षता वाली सेवाएं उपयोगकर्ताओं को मिलेंगी, जिससे विकास की राह में एक नई राह खुलेगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *