जसप्रीत बुमराह टेस्ट गेंदबाज़ी रैंकिंग में शीर्ष पर, अश्विन तीसरे स्थान पर फिसले!

भारतीय तेज गेंदबाज़ जसप्रीत बुमराह ने आईसीसी पुरुष टेस्ट गेंदबाज़ी रैंकिंग में पहली बार शीर्ष स्थान हासिल किया है। विज़ाखापत्तनम में इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में भारत की 106 रन की जीत में 9/91 के शानदार प्रदर्शन के बाद बुमराह ने अपने साथी रविचंद्रन अश्विन को शीर्ष स्थान से हटा दिया है।

बुमराह का शानदार प्रदर्शन:

  • बुमराह ने नौ विकेट लेकर गेंदबाज़ों की नवीनतम टेस्ट रैंकिंग में तीन स्थान की छलांग लगाई और शीर्ष स्थान हासिल किया।
  • उनके इस प्रदर्शन ने उन्हें टेस्ट रैंकिंग में शीर्ष स्थान हासिल करने वाले भारत के पहले तेज गेंदबाज़ बना दिया है।
  • उन्होंने 34 टेस्ट मैचों में अपने देश के लिए कुल 10 बार पांच विकेट लेकर पहले भी अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है, लेकिन तीसरे स्थान से ऊपर नहीं जा पाए थे।

अन्य शीर्ष रैंकिंग:

  • बुमराह के बाद दूसरे स्थान पर दक्षिण अफ्रीका के कगिसो रबाडा हैं।
  • अनुभवी स्पिनर रविचंद्रन अश्विन तीसरे स्थान पर खिसक गए हैं।
  • ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज़ पैट कमिंस और जोश हेजलवुड क्रमशः चौथे और पांचवें स्थान पर हैं।

यह भी पढ़े-IPL 2024 में रोहित शर्मा की वापसी, हार्दिक पांड्या की कप्तानी पर संकट

यह भी पढ़े-सरफराज खान का टीम इंडिया में चयन: घरेलू क्रिकेट के स्टार को मिला बड़ा मौका

यह भी पढ़े- ऋषभ पंत की वापसी की उम्मीद, आईपीएल 2024 में खेल सकते हैं

जसवंत जायसवाल की शानदार रैंकिंग:

  • विज़ाखापत्तनम टेस्ट की पहली पारी में शानदार दोहरा शतक लगाने वाले यशस्वी जायसवाल को बल्लेबाज़ी रैंकिंग में भी इनाम मिला है।
  • केन विलियमसन के बाद 29वें स्थान पर पहुंचे जायसवाल ने अपने टेस्ट करियर का सर्वोच्च स्कोर 209 बनाया था और भारत को सीरीज़ बचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।
  • स्टीव स्मिथ और जो रूट दूसरे और तीसरे स्थान पर हैं, वहीं डेरिल मिशेल और बाबर आजम शीर्ष पांच में शामिल हैं।
  • दिग्गज भारतीय बल्लेबाज़ विराट कोहली सातवें स्थान पर हैं, जबकि ऋषभ पंत और कप्तान रोहित शर्मा क्रमशः 12वें और 13वें स्थान पर हैं।
  • इंग्लैंड के बेन स्टोक्स (चौथे) और भारत के अक्षर पटेल (पांचवें) टेस्ट ऑलराउंडरों की सूची में एक-एक स्थान ऊपर चढ़े हैं, जिस पर रवींद्र जडेजा का कब्ज़ा है।

निष्कर्ष:

बुमराह का शीर्ष स्थान हासिल करना भारतीय क्रिकेट के लिए गर्व का क्षण है। यह उनकी कड़ी मेहनत और लगन का नतीजा है। आशा है कि वह आने वाले समय में भी शानदार प्रदर्शन करते रहेंगे और भारतीय क्रिकेट को नई ऊंचाइयों पर ले जाएंगे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *