भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) ने 31 जनवरी, 2024 तक फास्टैग की केवाईसी अनिवार्य कर दी है। 31 जनवरी की रात 12 बजे के बाद से, बिना केवाईसी वाले फास्टैग निष्क्रिय हो जाएंगे और वाहन चालकों को टोल प्लाजा पर दोगुना टोल देना होगा।

फास्टैग की केवाईसी क्यों जरूरी है?

फास्टैग एक इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह प्रणाली है जो वाहनों को टोल प्लाजा पर बिना रुके टोल भुगतान करने की अनुमति देती है। केवाईसी प्रक्रिया में वाहन चालक का पहचान और पते का सत्यापन किया जाता है। यह सुनिश्चित करने के लिए किया जाता है कि फास्टैग का उपयोग केवल उसके लिए पंजीकृत वाहन द्वारा ही किया जा रहा है।

कैसे करें फास्टैग की केवाईसी?

फास्टैग की केवाईसी करने के लिए, आप निम्नलिखित तरीकों में से किसी एक का उपयोग कर सकते हैं:

  • ऑनलाइन: आप अपने बैंक की वेबसाइट या मोबाइल ऐप का उपयोग करके ऑनलाइन फास्टैग की केवाईसी कर सकते हैं।
  • ऑफलाइन: आप किसी भी टोल प्लाजा पर स्थित फास्टैग सेवा केंद्र पर जाकर ऑफलाइन फास्टैग की केवाईसी कर सकते हैं।

ऑनलाइन फास्टैग की केवाईसी करने के लिए:

  1. अपने बैंक की वेबसाइट या मोबाइल ऐप पर जाएं।
  2. “फास्टैग” या “फास्टैग केवाईसी” टैब पर क्लिक करें।
  3. अपना फास्टैग नंबर और अन्य आवश्यक जानकारी दर्ज करें।
  4. अपना पहचान और पते का प्रमाण अपलोड करें।
  5. “केवाईसी सबमिट करें” बटन पर क्लिक करें।

ऑफलाइन फास्टैग की केवाईसी करने के लिए:

  1. किसी भी टोल प्लाजा पर स्थित फास्टैग सेवा केंद्र पर जाएं।
  2. फास्टैग सेवा केंद्र के अधिकारी को अपना फास्टैग नंबर और अन्य आवश्यक जानकारी प्रदान करें।
  3. अपना पहचान और पते का प्रमाण प्रस्तुत करें।
  4. फास्टैग सेवा केंद्र के अधिकारी केवाईसी प्रक्रिया को पूरा करेंगे।

यह भी पढ़े- 7वें वेतन आयोग: केंद्रीय कर्मचारियों को मिली बम्पर खुशखबरी! डीए बढ़ोतरी के अलावा मिलेंगे 2 लाख 18 हजार रुपये, जानें कैसे

यह भी पढ़े- 7वें वेतन आयोग: केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनरों के लिए बंपर खुशखबरी, डीए में 4% बढ़ोतरी, बेसिक सैलरी में रिकॉर्डतोड़ इजाफा

फास्टैग की केवाईसी के लिए आवश्यक दस्तावेज:

  • पैन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • मतदाता पहचान पत्र
  • वाहन के पंजीकरण प्रमाणपत्र (RC)

फास्टैग की केवाईसी की स्थिति कैसे जांचें?

आप अपने फास्टैग की केवाईसी की स्थिति ऑनलाइन या ऑफलाइन जांच सकते हैं।

ऑनलाइन केवाईसी स्थिति जांचने के लिए:

  1. अपने बैंक की वेबसाइट या मोबाइल ऐप पर जाएं।
  2. “फास्टैग” या “फास्टैग केवाईसी” टैब पर क्लिक करें।
  3. अपना फास्टैग नंबर दर्ज करें।
  4. “केवाईसी स्थिति देखें” बटन पर क्लिक करें।

ऑफलाइन केवाईसी स्थिति जांचने के लिए:

  1. किसी भी टोल प्लाजा पर स्थित फास्टैग सेवा केंद्र पर जाएं।
  2. फास्टैग सेवा केंद्र के अधिकारी को अपना फास्टैग नंबर प्रदान करें।
  3. अधिकारी आपको आपकी फास्टैग की केवाईसी की स्थिति बताएंगे।

यह भी पढ़े-LIC सरल पेंशन योजना: एकमुश्त प्रीमियम पर जिंदगी भर पेंशन का इंतजाम

यह भी पढ़े-राशन कार्ड धारकों के लिए खुशखबरी! अब गेहूं, चावल के साथ फ्री में और मिलेगा इतने किलो मोटा अन्न

निष्कर्ष:

फास्टैग की केवाईसी एक महत्वपूर्ण प्रक्रिया है जो वाहन चालकों को टोल प्लाजा पर बिना रुके टोल भुगतान करने की अनुमति देती है। 31 जनवरी, 2024 तक फास्टैग की केवाईसी करवाना अनिवार्य है। यदि आपने अभी तक अपनी फास्टैग की केवाईसी नहीं की है, तो कृपया जल्द से जल्द करवा लें।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *