केंद्रीय कर्मचारियों के लिए गुड न्यूज, 18 महीने के महंगाई भत्ता बकाया को लेकर भेजा गया प्रस्ताव

7th Pay Commission: देश के कर्मचारियों के लिए 18 महीने के बकाया डीए को लेकर एक नया अपडेट सामने आया है। कर्मचारियों और पेंशनर्स को यह भत्ता जल्‍द ही मिल सकता है।

18 महीने का बकाया भत्ता

केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनर्स के 18 महीने डीए (Dearness Allowance) बकाया को लेकर एक नया अपडेट सामने आया है। कर्मचारियों को यह बकाया जारी किया जा सकता है। यह DA बकाया जनवरी 2020 से जून 2021 तक का है। अगर मंत्रालय इसमें बढ़ोतरी करती है तो कर्मचारियों की सैलरी (Employees Salary) में एक बड़ी बढ़ोतरी देखी जा सकती है।

पूरी खबर पढ़े- केंद्रीय कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, 18 महीने के बकाया महंगाई भत्ता जल्द ही मिलेगा

प्रस्ताव और चर्चा

भारतीय प्रतिरक्षा मजदूर संघ के महासचिव मुकेश सिंह ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) को पत्र लिखा है और कहा है कि महामारी के दौरान सरकारी कर्मचारियों और रिटायर्ड लोगों का रोका गया भत्ता अब वापस करना चाहिए। उन्‍होंने कोविड-19 के दौरान इनके योगदान और देश के प्रयासों का समर्थन करने में उनकी भूमिका पर जोर दिया।

पूरी खबर पढ़े- केंद्रीय कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, 18 महीने के बकाया महंगाई भत्ता जल्द ही मिलेगा

बकाया का भुगतान संभव नहीं

देश की वित्तीय हालत सुधरने के बाद वित्त मंत्रालय में राज्य मंत्री पंकज चौधरी ने पहले संकेत दिया था कि नकारात्मक के कारण चुनौतीपूर्ण वित्तीय वर्ष 2020-21 से बकाया का भुगतान करना संभव नहीं माना जा रहा है।

महंगाई भत्ता की बढ़ोतरी

उम्‍मीद की जा रही है कि इस बार भी जनवरी के बाद कर्मचारियों को 4 फीसदी महंगाई भत्ता बढ़ोतरी (4% DA Hike) का तोहफा मिल सकता है। अगर ऐसा होता है तो पेंशनर्स और कर्मचारियों का महंगाई भत्ता बढ़कर 50 फीसदी हो जाएगा।

पूरी खबर पढ़े- केंद्रीय कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर, 18 महीने के बकाया महंगाई भत्ता जल्द ही मिलेगा

संक्षेप

इस प्रस्ताव के साथ, केंद्र सरकार कर्मचारियों के लिए एक बड़ी संबंधित और सकारात्मक कदम उठाने का प्रयास कर रही है। यह नया अपडेट कर्मचारियों के लिए संतुष्टि और सुरक्षा का संकेत है, जो उनके आर्थिक स्थिति को सुधार सकता है। इसके साथ ही, यह भी दिखाता है कि सरकार अपने कर्मचारियों की भलाई और सुविधाओं को लेकर गंभीर है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *