इनकम टैक्स के नियमों के मुताबिक, घर पर कैश रखने के लिए कोई विशेष सीमा नहीं है। आप जितना चाहें उतना कैश रख सकते हैं। लेकिन, यह जरूरी है कि आपके पास उस कैश का सोर्स हो। अगर कभी जांच एजेंसी आपसे पूछताछ करती है, तो आपको उस कैश का सोर्स दिखाना होगा। अगर आप ऐसा नहीं कर पाते हैं, तो आपके खिलाफ कार्रवाई हो सकती है।

कैश के मामले में अन्य नियम

  • एक बार में 50 हजार रुपये से अधिक कैश निकालने पर पैन कार्ड दिखाना होगा।
  • 20 लाख रुपये से अधिक कैश निकालने पर टीडीएस देना होगा।
  • 1 करोड़ रुपये से अधिक कैश निकालने पर टीडीएस 2% होगा।
  • 1 लाख रुपये से अधिक का क्रेडिट-डेबिट कार्ड ट्रांजैक्शन पर जांच हो सकती है।
  • 2 लाख रुपये से अधिक का कैश ट्रांजैक्शन पर जांच हो सकती है।

क्या करें अगर आपके पास जांच एजेंसी से पूछताछ होती है?

अगर आपके पास जांच एजेंसी से पूछताछ होती है, तो आपको घबराने की जरूरत नहीं है। आपको शांत रहकर और सहयोग करते हुए अपनी बात रखनी चाहिए। आपको अपने पास मौजूद सभी दस्तावेज दिखाने चाहिए। अगर आपके पास कोई सोर्स नहीं है, तो आपको उसकी जानकारी जुटानी चाहिए।

कैश रखने के लिए कुछ सुझाव

  • कैश को सुरक्षित स्थान पर रखें।
  • कैश की गिनती समय-समय पर करें।
  • कैश को एक जगह पर न रखें।
  • कैश को अलग-अलग स्थानों पर रखें।

निष्कर्ष

कैश रखने के नियमों को समझना जरूरी है। इन नियमों का पालन करके आप परेशानी से बच सकते हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *